हाँ, मैं लड़का हूँ, मैं भी डरता हूँ। हर बार मैं गलत हूँ, ज़रूरी तो नहीं।

आज़ादी से भरे इस देश में

जब एक इल्ज़ाम लग जाता है,

नाम अगर ‘ लड़का ‘ है

तो वो वहीं पर मारा जाता है।

हक की आज लड़ाई में

हक से ज़्यादा गुमान है,

जो लड़की गलत कह दे तो

सारे सबूत बेईमान है।

माना कि समान अधिकार है

और वो भी सिर्फ कहने को,

सारे किताबों में शो शोभायमान है।

ये ज़माना वो नहीं जब

लड़की होती बेजान है,

अधिकारों का हवाला लिए

वो हथियार भी चला देती है,

वो लड़का है क्योंकि

बस यही बात,

समाज की जुबां बंद कर देती है।

गलत ही होगा वो

ज़माना ही ऐसा है,

झूठ क्यों कहेगी वो

आखिर, लड़की का नाम जो ओढ़ा है।

वो तफ़्तीश में कहेगा भी

तो क्या कहेगा,

वो लड़का है, सारी बात झूठ ही कहेगा,

अंजाम की कहानी बस उसकी

कुछ इस तरह खत्म हो जाएगी,

वो बेगुनाह होगा, पर सज़ा तो उसे निभानी होगी।

गलतफहमी नाम की भी कोई

चिड़िया कहलाती है,

ज़रूरी नहीं कि, अगर पास लड़का हो

तो उसकी नियत

किसी औरत की आबरू को लेकर

खराब हो जाती है,

कि जब भीड़ में सफ़र वो करता है (बस का सफर)

डर उसे भी लगता है

वो सहम सा जाता है

कि इल्ज़ाम लगाने वाले बहुत है भीड़ में

गलती से भी गिर गया तो

क्यों, क्योंकि मैं एक लड़का हूँ

वो बिना मेरी सफाई के

भावनाओं को मेरी , ज़ार-2 कर जाएंगे,

क्यों

क्योंकि, आखिर इल्ज़ाम ने लड़की का नाम जो ओढ़ा है।

हाँ, माना कि घटनाएं होती हैं

पर लड़का होना भी अब

मेरे लिए किसी घटना से कम नहीं है,

कि क्या कभी सुना है

कि, गलती से वह लड़की, उस लड़के पर गिर गयी हो

और उस लड़के का नाम लिए इंसान ने

उसे गुनाहगार कह दिया हो, बेशर्म कह दिया हो।

नहीं सुना होगा,

क्यों

क्योंकि वह लड़की थी और मैं लड़का।

हाँ , मै लड़का हूँ

और मैं भी डर जाता हूँ

उन लड़कियों की भीड़ में

जहां लड़का होना मेरे लिए अपराध से कम नहीं।

तुम कभी मेरे बारे मे भी सोचना

कि, तुझमे और मुझमें बस इस ‘ ई’ और ‘ आ’ का फर्क है,

हूँ तो मैं भी तुम ही,

सब जैसा नहीं,

सबसे अलग भी नहीं,

पर हाँ मैं गलत भी नहीं हूँ।

जीनों दो मुझे भी

भीड़ में खुशी से,

हो सके तो, तुम

अपनी भावनाओं का नज़रिया बदल देना

क्योंकि मैं लड़का हूँ

बस ये सोचकर मुझे एक सा ना कर देना,

डर लगता है मुझे भी

थोड़ा आराम मुझे भी इस समाज में दे देना।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Skip to toolbar